Mota hone ka upay: मोटा होने के लिए करे इन चीजो का सेवन

0
144

आज हम mota hone ka upay के बारे में बात करेंगे। आजकल पतलापन और मोटापा दोनों ही बहुत गंभीर समस्या बन चुकी है।

अंडरवेट को 18.5 से नीचे बॉडी मास इंडेक्स (बीआएमआई) के रूप में परिभाषित किया गया है। यह estimated स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आवश्यक optimal health से कम होने का अनुमान है।

इसके विपरीत, 25 से अधिक वाला व्यक्ति वजनी और उससे भी अधिक यानी कि 30 से अधिक वाले व्यक्ति मोटे लोगों के कैटेगरी में आते हैं।

हालांकि, ध्यान रखें कि बीएमआई पैमाने की कई समस्याएं भी है क्योंकि यह केवल वजन और ऊंचाई को ध्यान में रखते हुए आंकड़े जारी करता है। जबकि यह मांसपेशियों को ध्यान में नहीं रखता है।

कुछ लोग स्वाभाविक रूप से बहुत पतले होते हैं लेकिन फिर भी स्वस्थ होते हैं। इस पैमाने के अनुसार कम वजन होने का मतलब यह नहीं है कि आपको स्वास्थ्य समस्या है।

अंडरवेट होना पुरुषों की तुलना में लड़कियों और महिलाओं में लगभग 2-3 गुना अधिक कॉमन बात है। अमेरिका में, 20 वर्ष और उससे अधिक आयु के 1% पुरुषों और 2.4% महिलाओं का वजन कम है।

18.5 से नीचे बॉडी मास इंडेक्स (BMI) होने के रूप में SUMMARYBeing अंडरवेट को परिभाषित किया गया है। यह महिलाओं और लड़कियों में बहुत आम बात है।

Gora hone ka upay: गोरा होने के 13 घरेलू उपाय और नुस्खे

Skin care tips: त्वचा को चमकदार बनाने के 10 बेहतरीन उपाय

Tummy fat: पेट की चर्बी घटाने की 10 बेहतरीन एक्सरसाइज

वजन कम होने के परिणाम क्या हैं?

मोटापा वर्तमान में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है।

हालाँकि, कम वजन होना आपकी सेहत के लिए बुरा हो सकता है। एक अध्ययन के अनुसार कम वजन वाले पुरुषों में पहले मौत आने का 140% अधिक जोखिम, और महिलाओं में 100% अधिक जोखिम बना रहता है।

अधिक मोटापा प्रारंभिक मृत्यु के 50% अधिक जोखिम से जुड़ा होता है इसका मतलब यह है कि यदि आप मोटे है तो आपका पहले मरने का चांस 50% ज्यादा है जबकि यदि आप बहुत पतले है तो आपका पहले मरने का चांस 140% ज्यादा है।

एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि कम वजन वाले पुरुषों में जल्दी मृत्यु का खतरा बढ़ जाता है, लेकिन महिलाओं में इस तरह की समस्या जल्दी नहीं होती। हम कह सकते हैं कि कम वजन महिलाओं की तुलना में पुरुषों के लिए अधिक खतरा है।

अंडरवेट होने से आपका इम्युन फंक्शन भी ख़राब हो सकता है, इन्फेक्शन का खतरा बढ़ा सकता है, ऑस्टियोपोरोसिस और फ्रैक्चर हो सकता है और फर्टिलिटी की समस्या हो सकती है

वे लोग जिनका वजन कम है उनमें सरकोपेनिया (age-related muscle wasting) होने की संभावना अधिक होती है और डिमेंशिया का खतरा भी कई गुना ज्यादा अधिक होता है।

कम वजन मोटापे की तुलना में ना सिर्फ अस्वस्थता को दर्शाता है बल्कि जो लोग कम वजन वाले होते हैं उन्हें ऑस्टियोपोरोसिस, संक्रमण, प्रजनन समस्याएं और जल्दी मृत्यु का खतरा होता है।

अक्सर ये चीजें बनती हैं पतलेपन का कारण

ऐसी कई several medical conditions हैं जो unhealthy weight loss का कारण बन सकती हैं, जिनमें निम्नलिखित चीजे शामिल हैं।

    • खाने के विकार: इसमें एनोरेक्सिया नर्वोसा, एक गंभीर मानसिक विकार शामिल है।
    • थायराइड की समस्याएं: एक अतिसक्रिय थायराइड (हाइपरथायरायडिज्म) होने से चयापचय को बढ़ावा मिल सकता है और unhealthy weight loss हो सकता है।
    • सीलिएक रोग: लस असहिष्णुता का सबसे गंभीर रूप। सीलिएक रोग से पीड़ित रोगी को इस बात की कोई जानकारी नहीं होती कि वह सीलिएक रोग से पीड़ित हैं।
    • मधुमेह: अनियंत्रित मधुमेह (मुख्य रूप से टाइप 1) होने से unhealthy weight loss हो सकता है।
    • कैंसर: कैंसर के ट्यूमर में अक्सर बड़ी मात्रा में कैलोरी जलती है और इससे किसी का भी वजन कम हो सकता है।
    • संक्रमण: कुछ संक्रमण किसी के गंभीर रूप से कम वजन का कारण बन सकते हैं। इसमें परजीवी, तपेदिक और एचआईवी / एड्स शामिल हैं।

यदि आप कम वजन के हैं, तो आप किसी भी गंभीर चिकित्सा स्थिति से निपटने के लिए एक डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

डॉक्टर को उस वक्त दिखाना चाहिए जब आपको ऐसा लगे कि बिना किसी वजह आपका weight loss हो रहा है या हो चुका है।

Mota hone ka upay क्या है 

यदि आप वजन हासिल करना चाहते हैं, तो पहले अपने डाइट्स को सही करे और दिनचर्या में सुधार करना बहुत महत्वपूर्ण है।

सोडा और डोनट्स पर बिंग करने से आपको वजन बढ़ाने में मदद मिल सकती है, लेकिन इसका अचानक उपयोग आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर भी छोड़ सकता है।

यदि आप कम वजन के हैं, तो unhealthy belly fat को बढ़ाने के बजाय एक गठीला शरीर बनाने पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। अक्सर ऐसा देखा गया है कि पतले लोग गठीला शरीर बनाने के बजाय मोटे होने पर ज्यादा ध्यान देते हैं।

सामान्य वजन वाले बहुत से लोग हैं जिन्हें टाइप 2 मधुमेह, हृदय रोग या अन्य स्वास्थ्य समस्याएं है, उनका कारण अक्सर मोटापा ही होता है। इसलिए मोटापे से भी बचे।

आगे हम जानेंगे कि तेजी से अपना वजन कैसे बढ़ाएं:-

जब आप वजन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हों तब ज्यादा स्वस्थ खाद्य पदार्थों का सेवन करना बहुत महत्वपूर्ण है।

अपने शरीर की आवश्यकता से अधिक कैलोरी खाएं 

सबसे महत्वपूर्ण बात जो आप वजन बढ़ाने के लिए कर सकते हैं, वह है calorie surplus, जिसका अर्थ है कि आप अपने शरीर की आवश्यकता से अधिक कैलोरी खाए जितना कि आपके शरीर को आवश्यकता है।

आप कैलोरी कैलकुलेटर का उपयोग करके अपनी कैलोरी की जरूरतों को निर्धारित कर सकते हैं और mota hone ka upay में थोड़ी मदद ले सकते हैं।

यदि आप धीरे-धीरे और तेजी से वजन हासिल करना चाहते हैं, तो कैलकुलेटर के अनुसार प्रत्येक दिन 300-500 कैलोरी का लक्ष्य रखें।

यदि आप तेजी से वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो अपने जरूरत से ज्यादा यानी कि एक दिन में लगभग 700-1,000 कैलोरी से युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन का लक्ष्य रखे।

ध्यान रखें कि कैलोरी कैलकुलेटर केवल अनुमान प्रदान करते हैं। आपकी आवश्यकताएं प्रति दिन कई सौ कैलोरी से भिन्न हो सकती हैं। यह आपके मेहनत और दिनचर्या पर निर्भर करता है कि आप किस दिन कितना काम कर रहे हैं या आपने उस दिन क्या क्या किया।

आपको अपने पूरे जीवन के लिए कैलोरी की गणना करने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन पहले कुछ दिनों या हफ्तों तक यह जानने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं कि एक दिन में आपको कितने कैलोरी की जरूरत है। इसके बाद आप खुद समझ जाएंगे।

प्रोटीन से भरपूर भोजन करें

स्वस्थ वजन हासिल करने के लिए एवं mota hone ka upay में से सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व “प्रोटीन” है।

मांसपेशिया प्रोटीन से बनी है और इसके बिना उन अतिरिक्त कैलोरी के अधिकांश शरीर में वसा के रूप में समाप्त हो सकता है।

अध्ययन से पता चला है कि अधिक स्तनपान के दौरान, एक  high-protein diet कई अतिरिक्त कैलोरी को मांसपेशियों के रूप में बदल देती है।

हालांकि, ध्यान रखें कि प्रोटीन एक दोधारी तलवार है। यह अत्यधिक नुकसान दायक भी है, जो आपकी भूख को काफी कम कर सकता है, जिससे शरीर मे पर्याप्त कैलोरी को प्राप्त करना कठिन हो जाता है।

यदि आप वजन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, तो शरीर के वजन के प्रति पाउंड 0.7-1 ग्राम प्रोटीन का लक्ष्य रखें (1.5-2.2 ग्राम प्रोटीन प्रति किलोग्राम)। अगर आपको इससे ज्यादा जरूरत है तो आप इसकी मात्रा बढ़ा भी सकते हैं।

उच्च-प्रोटीन खाद्य पदार्थों में मीट, मछली, अंडे, कई डेयरी उत्पाद, फलियां, नट्स और अन्य खाद्य पदार्थ शामिल हैं। यदि आप अपने आहार में पर्याप्त प्रोटीन की खोज कर रहे है तो मट्ठा का उपयोग काफी कारगर साबित हो सकता है।

कार्ब्स और वसा युक्त भोजन प्रति दिन कम से कम 3 बार खाएं

कई लोग वजन कम करते समय कार्ब्स या वसा युक्त खाद्य पदार्थों को प्रतिबंधित (restricting) करने की कोशिश करते हैं। चूंकि यह एक बुरा विचार है अगर आपका लक्ष्य वजन हासिल करना है तो इसे प्रतिबंधित करने से आपको पर्याप्त कैलोरी मिलना कठिन हो जाएगा।

अगर आप के लिए वजन एक प्राथमिकता है, तो  high-carb and high-fat foods वाले खाद्य पदार्थ खाएं। प्रत्येक भोजन में प्रोटीन, वसा और कार्ब्स से भरपूर भोजन शामिल करना एक  अच्छा विचार हो सकता है।

रुक-रुक कर उपवास रखना भी एक बुरा विचार है। यह वजन घटाने और स्वास्थ्य में सुधार के लिए तो उपयोगी है परंतु वजन बढ़ाने के लिए यह काफी बुरा असर छोड़ता है।

प्रति दिन कम से कम तीन बार भोजन अवश्य करें और जब भी संभव हो एनर्जी-सेंस स्नैक्स में शामिल करने का प्रयास करें।

एक बार में भर पेट भोजन करने से अच्छा है कि आप दिन में थोड़ा थोड़ा करके 5-6 बार भोजन करे। आपको 15 दिनों के अंदर फर्क दिखने लगेगा। भोजन में वसा, कार्ब्स और प्रोटीन को भरपूर मात्रा में शामिल करें।

एनर्जी-डेंस फूड खाएं और सॉस, मसालों का अधिक उपयोग करें

अब आप सोच रहे होंगे, यार ये क्या बोल रहा है। mota hone ka upay में भला तेल मसालों का क्या काम? एक तरफ लोग तेल मसाला खाने से मना करते हैं और दूसरी तरफ हम आपसे तेल मसाला खाने को बोल रहे है।

आइए हम आगे आपको बताते है कि आखिर इसका मुख्य कारण क्या है? और हम ऐसा क्यों बोल रहे हैं।

समस्या यह है कि ये खाद्य पदार्थ जंक फूड की तुलना में अधिक नुकसान देय होते हैं, जिससे पर्याप्त कैलोरी प्राप्त करना कठिन हो जाता है।

मसालों, सॉस और तैलीय पदार्थ का भरपूर उपयोग करने से इससे मदद मिल सकती है। आपका भोजन जितना स्वादिष्ट होता है, उतना ही इसे खाना भी आसान होता है।

इसके अलावा  यदि आपसे मसालेदार भोजन करना संभव ना हो तो energy-dense foods पदार्थों पर जोर देने की कोशिश करें। ये ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनमें अपने वजन के सापेक्ष कई कैलोरी होती हैं।

यहाँ कुछ energy-dense foods पदार्थ हैं जो वजन बढ़ाने के लिए एकदम सही हैं:

    • नट्स: बादाम, अखरोट, मकाडामिया नट्स, मूंगफली, आदि।
    • सूखे फल: किशमिश, खजूर, prunes और अन्य।
    • उच्च वसा वाली डेयरी: संपूर्ण दूध, पूर्ण वसा वाला दही, पनीर, क्रीम।
    • वसा और तेल:  जैतून का तेल और एवोकैडो तेल।
    • अनाज: साबुत अनाज जैसे ओट्स और ब्राउन राइस।
    • मांस: चिकन, मछली, बकरे का मीट, भेड़ का बच्चा आदि।
    • कंद: आलू, शकरकंद और यम।
    • डार्क चॉकलेट, एवोकाडोस, पीनट बटर, नारियल का दूध, ग्रेनोला, ट्रेल मिक्स।

इन खाद्य पदार्थों में से कई खाद्य पदार्थ काफी बेकार और अस्वादिष्ट होते हैं। कभी-कभी आपको अपने आप को खाने के लिए मजबूर करने की आवश्यकता हो सकती है।

फल खाना ठीक है, लेकिन ऐसे फल पर जोर देने की कोशिश करें, जिसमें केले की तरह बहुत अधिक चबाने की आवश्यकता न हो।

भारी वजन उठाएं और अपनी ताकत में सुधार करें

यह जानने की आवश्यकता है कि अतिरिक्त वसा केवल आपकी वसा कोशिकाओं के बजाय आपकी मांसपेशियों में भी जाती है, इसलिए वजन उठाना पूरी तरह से महत्वपूर्ण है।

एक जिम में जाएं और प्रति सप्ताह 2–4 बार वेट लिफ्टिंग करे। समय के साथ उसका वज़न और मात्रा बढ़ाने की कोशिश करते रहे।

यदि आप पूरी तरह से नए हैं या आपको इसके बारे में कोई भी जानकरी नही है तो कभी भी अकेले करने की कोशिश ना करे। शुरुआती दिनों में सहायता के लिए एक योग्य व्यक्तिगत ट्रेनर को काम पर रखने पर विचार करें।

हड्डियों की समस्या या कोई मेडिकल समस्या होने पर आप डॉक्टर से सलाह भी ले सकते हैं।

अब के लिए कार्डियो पर इसे लेना सबसे अच्छा है – अपना ध्यान ज्यादातर वज़न बढाने पर केंद्रित करें।

कार्डियो फिटनेस और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए ठीक है, लेकिन इतना मत करे कि आप सभी अतिरिक्त कैलोरी को कार्डियो करने में ही जला दें।

Mota hone एवं वजन बढ़ाने के 10 बेहतरीन उपाय

तेजी से वजन बढ़ाने के लिए कई अन्य तरीके भी हैं जिन्हें आप फॉलो कर सकते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए यहां 10 और टिप्स दिए गए हैं:

    • भोजन से पहले पानी न पियें: इससे आपका पेट भर सकता है और पर्याप्त कैलोरी प्राप्त करना कठिन हो सकता है।
    • अधिक से अधिक बार खाए: अतिरिक्त भोजन या नाश्ते में जब भी आप कर सकते हैं निचोड़ें, जैसे कि बिस्तर से पहले।
    • दूध पिए: प्यास बुझाने के लिए पानी के स्थान पर कभी कभी दूध पीना high-quality protein और कैलोरी प्राप्त करने का एक सरल तरीका है।
    • वजन बढ़ाने वाले शेक ट्राई करें: यदि आप वास्तव में संघर्ष कर रहे हैं तो आप  weight gainer shakes का प्रयोग कर सकते हैं। इनमें प्रोटीन, कार्ब्स और कैलोरी बहुत अधिक होता हैं।
    • बड़ी प्लेटों का उपयोग करें: यदि आप अधिक कैलोरी प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं, तो निश्चित रूप से बड़ी प्लेटों का उपयोग करें, क्योंकि छोटी प्लेटें लोगों को स्वतः कम खाने के लिए उकसाती है।
    • अपनी कॉफ़ी में क्रीम मिलाए यह: अधिक कैलोरी जोड़ने का एक सरल तरीका है।
    • क्रिएटिन लें: मांसपेशियों के निर्माण का पूरक क्रिएटिन मोनोहाइड्रेट आपको मांसपेशियों के वजन में कुछ पाउंड हासिल करने में मदद कर सकता है।
    • गुणवत्ता वाली नींद लें: मांसपेशियों के विकास के लिए सही तरीके से नींद लेना बहुत जरूरी है।
    • पहले प्रोटीन युक्त खाएं और आखिरी में सब्जियां: यदि आपकी थाली में खाद्य पदार्थों का मिश्रण है, तो पहले कैलोरी-घने ​​और प्रोटीन युक्त भोजन खाएं। आखिरी में सब्जियां खाएं।
    • धूम्रपान न करें: धूम्रपान करने वालों का वजन धूम्रपान न करने वालों की तुलना में कम होता है और धूम्रपान छोड़ने से अक्सर वजन भी बढ़ने लगता है।

कई अन्य चीजें हैं जिनका उपयोग आप तेजी से वजन बढ़ाने के लिए कर सकते हैं। इनमें दूध पीना, वजन बढ़ाने वाले शेक का उपयोग करना, आपकी कॉफी में क्रीम जोड़ना और अधिक से अधिक बार खाना शामिल है।

वजन बढ़ाना मुश्किल हो सकता है लेकिन धैर्य “सफलता की कुंजी” है

कुछ लोगों के लिए वजन बढ़ाना बहुत मुश्किल हो सकता है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि आपके शरीर में वजन का एक निश्चित समूह है जहां पर आपका शरीर आरामदायक महसूस करता है।

चाहे आप अपने सेटपॉइंट के नीचे जाने (वजन कम करने) या इसके ऊपर जाने (वजन बढ़ाने) की कोशिश करें, आपका शरीर आपकी भूख के स्तर और चयापचय दर को नियंत्रित करके शरीर में अचानक होने वाले परिवर्तनों का विरोध करेगा यानी कि आप को काफी दिक्कत महसूस होगा।

जब आप अधिक कैलोरी युक्त भोजन खाते हैं और वजन बढ़ाते हैं, तो आप अपने metabolism के बूस्ट और भुख के कम होने जैसी समस्याओं का सामना कर सकते हैं।

यह काफी हद तक आपके मस्तिष्क के साथ-साथ लेप्टिन जैसे वजन को नियंत्रित करने वाले हार्मोन द्वारा किया जाता है।

यदि आप लंबे समय के लिए सफल होना चाहते हैं, तो आपको एक लंबा समय लग सकता है, और आपको consistent रहने की आवश्यकता है।

Conclusion

आशा करते है कि आपको हमारे द्वारा बताया गया mota hone ka upay पसंद आया होगा। अगर आपका कोई सुझाव या सवाल है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं। इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।