बाल बढ़ाने के 19 घरेलू उपाय: 19 Herbal Remedies for Hair Growth in hindi

0
116

तो आज हम जानने वाले हैं 19 Herbal Remedies for Hair Growth in hindi और क्या यह वास्तव में काम करता है?

बालों का झड़ना कई पुरुषों और महिलाओं के लिए एक आम चिंता का विषय है। आनुवांशिकी और विटामिन की कमी से लेकर हार्मोन में बदलाव तक ऐसे कई कारण हैं जिनसे आपके बाल गिर सकते हैं। कुछ medical conditions जैसे कि थायरॉयड रोग, बाल का पतला होना या बाहर जाने से भी हेयर Hair fall हो सकते हैं।

बाल बढ़ाने के लिए कोई जादू की गोली नहीं है, लेकिन शोध से पता चला है कि कुछ जड़ी-बूटियां बालों के झड़ने को धीमा कर सकती हैं या नए बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद कर सकती हैं। हालांकि ध्यान देने योग्य बात यह है कि जानवरों पर बहुत अधिक शोध किया गया है। मनुष्यों पर उनकी प्रभावशीलता साबित करने के लिए अतिरिक्त अध्ययन की आवश्यकता है।

अपने बालों के विकास को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए हर्बल उपचार का उपयोग कैसे किया जा सकता है, यह जानने के लिए इस खबर को पढ़ते रहें।

अपने दैनिक दिनचर्या में जड़ी बूटियों को शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर जरूर कर ले। हमारा मकसद केवल आपको जानकारी देना है। किसी भी जड़ी बूटियों का इस्तेमाल आपके लिए घातक हो सकता है। खासकर उस वक्त जब आपको उसके बारे में कोई जानकारी ही ना प्राप्त हो।

हर्बल हेयर ऑयल

हेयर ऑयल, जिसे हेयर टॉनिक भी कहा जाता है, वास्तव में यह एक carrier oil base मिश्रित हर्बल अर्क हैं। कुछ hair oils  में कई जड़ी-बूटियाँ और carrier oils शामिल होतेे हैं।

हर्बल तेल बनाने के लिए उपयोग किए जाने वाले लोकप्रिय वाहक तेल हैं। जैसे कि-

    • नारियल का तेल
    • मीठा बादाम का तेल
    • अखरोट का तेल
    • जैतून का तेल
    • खनिज तेल
    • जोजोबा का तेल
    • गेहूं के बीज का तेल

हर्बल हेयर ऑयल में उपयोग की जाने वाली कुछ जड़ी-बूटियाँ हैं। जैसे कि-

  • Chinese hibiscus (हिबिस्कस रोजा साइनेंसिस): Chinese hibiscus एक सदाबहार झाड़ी है। इसके खाद्य, जीवंत फूलों का उपयोग अक्सर हर्बल चाय बनाने के लिए किया जाता है। हिबिस्कस को बालों के रोम को उत्तेजित करने, रोम के आकार को बढ़ाने और बालों के विकास को बढ़ाने में मदद करने के लिए प्रयोग किया जाता है।
  • ब्राह्मी (Bacopa monnieri): ब्राह्मी को बकोपा भी कहा जाता है। यह एक रेंगने वाली जड़ी बूटी है जिसका उपयोग आयुर्वेद चिकित्सा में किया जाता है। इसमें बालों के विकास के लिए जिम्मेदार प्रोटीन को सक्रिय करने के लिए alkaloids नामक पदार्थ होता है।
  • Coat buttons (ट्राइडाक्स प्राप्य): कोट बटन एक रेंगने वाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटी और डेज़ी परिवार का सदस्य है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। यह अपने दम पर और अन्य जड़ी बूटियों के साथ तालमेल बैठाकर hair growth को बढ़ावा देता है।
  • जटामांसी (Nardostachys jatamansi): जटामांसी एक छोटी झाड़ी है जिसके rhizomes से hair growth तेज हो सकती है। यह chemotherapy के कारण खालित्य में hair growth में प्रयोग किया जाता है।
  • जिनसेंग (Panax ginseng): जिनसेंग बालों के झड़ने सहित कई स्थितियों के लिए एक सदियों पुराना प्राकृतिक उपचार है। इसमें सैपोनिन होता है, जो माना जाता है कि 5 ए रिडक्टेस को रोककर बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है। यह पुरुषों में बालों के झड़ने से संबंधित एक एंजाइम है।

19 Herbal Remedies for Hair Growth in hindi

कैसे इस्तेमाल करे

कुछ हेयर ऑइल को शैम्पू या लीव-इन हेयर ट्रीटमेंट के रूप में उपयोग करने के लिए तैयार किया जाता है, इसलिए shampoo के डिब्बे पर लिखे गए caution और प्रयोग करने के तरीकों को जरूर पढ़ें। इससे आपको अच्छी तरह पता चल जाएगा कि इसे कब कहा और कैसे प्रयोग करना है।

पॉलीहर्बल मलहम

हर्बल मलहम को कभी-कभी हर्बल साल्व कहा जाता है। यह आमतौर पर जड़ी-बूटियों के साथ एक तेल जैसे लानौलिन या पेट्रोलियम जेली और पानी के साथ बनाया जाता है। अन्य सामग्री में मोम या कोकोआ मक्खन शामिल हो सकते हैं। पॉलीहर्बल मलहम में आमतौर पर कई हर्बल अर्क होते हैं।

कुछ जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल पॉलीहेरल मलहमों में किया जाता है। जैसे कि-

  • गूसबेरी (Emblica officinalis): गूसबेरी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है। इसका उपयोग बालों को मजबूत बनाने और बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है। यह भी खुद मेंं कई एंटीऑक्सिडेंट शामिल करने के लिए जाना जाता है।
  • गोटू कोला (Centella asiatica): गोटू कोला सबसे लोकप्रिय आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों में से एक है। यह बालों की लंबाई को बढ़ाने और संभवतः खोपड़ी में रक्त परिसंचरण को बढ़ाकर बालों के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है।
  • एलोवेरा (A. Barbadensis Mill.): एलोवेरा एक उष्णकटिबंधीय पौधा है। यह जलने और पाचन समस्याओं के लिए एक लोकप्रिय उपचार है। इसका उपयोग खोपड़ी को स्वस्थ रखने के लिए भी किया जाता है। जिससे healthy hair growth हो।
  • पवित्र तुलसी (Ocimum sanctum): पवित्र तुलसी एक सुगंधित, एडापोजेनिक जड़ी बूटी है जो अपने उपचार गुणों के लिए जानी जाती है। यह रूसी और खुजली या हार्मोनल स्तर में परिवर्तन के कारण बालों के झड़ने को रोकने में मदद कर सकता है।

कैसे इस्तेमाल करे

पॉलीहर्बल मलहम आमतौर पर आपकी खोपड़ी पर सीधे प्रयोग होते हैं। साफ हाथों से कंपनी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार तब तक मालिश करते रहे जब तक कि आपका scalp उसे पूरी तरह अवशोषित ना कर ले।

हर्बल क्रीम

हर्बल क्रीम भी जड़ी-बूटियों के तेल और पानी से बनाई जाती हैं। उनमें हर्बल मरहम की तुलना में तेल कम और पानी अधिक होता है जो आपकी त्वचा द्वारा आसानी से अवशोषित कर ली जाती है।

हर्बल क्रीम बनाने के लिए उपयोग की जाने वाली कुछ जड़ी-बूटियाँ निम्नलिखित है। जैसे कि-

  • Giant dodder (क्यूसेका रिफ्लेक्सा रॉक्सब): 2008 के एक अध्ययन के अनुसार Giant dodder एक आयुर्वेदिक पौधा – 5 ए रिडक्टेस एंजाइम को रोककर स्टेरॉयड हार्मोन के कारण होने वाले खालित्य का इलाज करने में मदद करता है।
  • Bitter apple (Citrullus colocynthis): Bitter apple एक रेगिस्तानी, फल देने वाला पौधा है जिसका उपयोग आयुर्वेद में किया जाता है। इसके सूखे फलों के गूदे का उपयोग बालों के झड़ने के इलाज के लिए किया जाता है। Bitter apple में ग्लाइकोसाइड होता है, जो कि hair growth को शुरू करने के लिए प्रयोग किया जाता हैं।
  • False daisy (एक्लिप्टा अल्बा): False daisy एक जड़ी बूटी है जिसका उपयोग आयुर्वेद में बालों के विकास को बढ़ाने के लिए किया जाता है। 2014 के एक अध्ययन के अनुसार, False daisy बालों के रोम को उत्तेजित करने में मदद करती है।
  • Night-flowering jasmine (Nyctanthes arbortristis): यह छोटी, फूल वाली झाड़ी दक्षिण एशिया की मूल निवासी है। 2016 के शोध के अनुसार, Night-flowering jasmine ने चूहों में बालों के विकास की शुरुआत की और यह इंसानों में भी प्रभावी हुआ है।

कैसे इस्तेमाल करे

साफ हाथों से, अपने स्कैल्प में हेयर क्रीम की मालिश करें या कंपनी के निर्देशों के अनुसार जड़ों से बालों में use करें।

हर्बल जैल

हर्बल जैल  में हर्बल अर्क होता है। इनमें आमतौर पर तेल नहीं होता है।

बालों को स्वस्थ बनाने के लिए हर्बल जेल में निम्नलिखित जड़ी बूटियां शामिल हो सकते हैं जैसे कि-

  • मेथी (Trigonella foenum-graecum): मेथी मटर परिवार का एक सदस्य है। यह एक लोकप्रिय खाना पकाने का मसाला है जो बालों को बढ़ाने में भी उपयोग किया जाता है। 2006 के शोध के अनुसार, मेथी के बीज के अर्क से बालों की मात्रा में सुधार होता है और पुरुषों और महिलाओं में बालों की मोटाई बढ़ती है।
  • अंकुरण अखरोट (सेमेकार्पस एनाकार्डियम): यह पौधा उप-हिमालयी क्षेत्र में पाया जाता है और बालों को बढ़ने में मदद करने के लिए आयुर्वेदिक और सिद्ध चिकित्सा में उपयोग किया जाता है। इसकी प्रभावशीलता और सुरक्षा को निर्धारित करने के लिए पर अधिक शोध की आवश्यकता है।

कैसे इस्तेमाल करे

स्वच्छ हाथों का उपयोग करके, अपने स्कैल्प में जेल की मालिश करें या कंपनी द्वारा बताए गए दिशा निर्देशों का पालन करते हुए  इसे अपने बालों पर  अप्लाई करें।

क्यूबोसोमल suspension

क्यूबोसोम तरल, क्रिस्टलीय नैनोपार्टिकल्स होते हैं। क्यूबोसोमल suspension का उपयोग दवाओं के वितरण को निर्धारित करने के लिए किया  जाता है एवं कुछ मामलों में  इसका हर्बल  उपचार  में भी उपयोग किया जाता है।

बालों के विकास के लिए क्यूबोसोमल सस्पेंशन में उपयोग की जाने वाली कुछ जड़ी-बूटियाँ निम्नलिखित है जैसे कि

  • ओरिएंटल आर्बरविटे (थुजा प्राच्यलिस): ओरिएंटल आर्बोरविटे एक सदाबहार पेड़ और सरू परिवार का सदस्य है। यह गंजापन के लिए एक पारंपरिक उपाय है। 2013 के एक अध्ययन स्रोत के अनुसार, जड़ी बूटी, बालों के रोम को आराम करने में विकास के चरण को उत्तेजित करके बालों को बढ़ने में मदद करती है।
  • एस्पिनोसिला (लोलेसिया मेक्सिकाना): एस्पिनोसिला मेक्सिको में उगाया जाता है। इसका उपयोग बालों के रोम को मजबूत करने और स्कैल्प को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। 2014 के एक अध्ययन के अनुसार, एस्पिनोइला ने नर चूहों में प्रयोग के दौरान  बालों के विकास  को कर दिखाया था।  जिससे यह  साबित हो गया कि एस्पिनोसिला का उपयोग इंसानों में हेयर ग्रोथ के लिए किया जा सकता है।
  • Goji berry (Lycium chinense Mill):  गोजी बेरी बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए traditional Chinese medicine में इस फल का उपयोग किया जाता है। गोजी बेरी में जिंक होता है जो बालों को नुकसान होने से बचाता है।
  • Tuber fleeceflower (बहुभुज मल्टीफ्लोरम): यह कंद बालों के झड़ने के लिए एक traditional Chinese medicine उपाय है। इसमें ऐसे यौगिक होते हैं जो 5A रिडक्टेस एंजाइम को रोकते हैं। यह बालों के रोम में उत्तेजक अवस्था को बढ़ाने में भी मदद करता है।

कैसे इस्तेमाल करे

साफ हाथों का उपयोग करते हुए अपने बालों को जड़ से टिप तक कंघी करें या अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित हर्बल क्यूबोसोमल suspensions का उपयोग करें।

संभावित दुष्प्रभाव और जोखिम

herbal hair growth products का मुख्य जोखिम एलर्जी की प्रतिक्रिया है। किसी भी जड़ी-बूटियों का उपयोग करने से पहले एलर्जी की प्रतिक्रिया को जानने के लिए आपको हमेशा एक patch test करना चाहिए।

ऐसे करें:

    • अपनी कलाई पर product की बहुत थोड़ी सी मात्रा लेकर उसे रगड़े।
    • कम से कम 24 घंटे के लिए छोड़ दें।
    • यदि आपको एक दिन के भीतर कोई जलन का अनुभव नहीं हुआ है, तो आप इसका उपयोग करने के लिए सक्षम है।

यदि आपको भविष्य में इससे कोई एलर्जी होती है तो कुछ ऐसे निशान देखने को मिलेंगे जो निम्नलिखित है-

  • लाल चकत्ते
  • हीव्स
  • लाली
  • खुजली
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • सिर चकराना
  • सरदर्द

topical herbal hair growth products से होने वाले दुष्परिणाम भी निम्नलिखित है-

    • बालो का पतला होना
    • बालों का झड़ना बढ़ जाना
    • सिर की त्वचा का सूख जाना
    • खोपड़ी पर लालिमा या जलन महसूस होना

बालों के विकास के लिए अधिकांश जड़ी-बूटियों के दुष्प्रभावों का मानव में अच्छी तरह से अध्ययन नहीं किया गया है।

जो महिलाएं गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, उन्हें डॉक्टर या किसी योग्य स्वास्थ्य चिकित्सक से सलाह लिए बिना बाल उगाने के लिए जड़ी-बूटियों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

खास बातें

कोई भी हर्बल उपचार बालों के पूरे सिर को दोबारा नहीं उगा सकता है। आपको हर्बल उत्पादों से सावधान रहना चाहिए जो पूरी तरह बालों को वापस उगाने के दावा करते हैं।

शोध से पता चला है कि कुछ जड़ी-बूटियां बालों को मजबूत करने, खोपड़ी के स्वास्थ्य का समर्थन करने, बालों की मोटाई में सुधार करने या hair growth cycle को उत्तेजित करने में मदद कर सकती हैं। फिर भी, हर्बल उपचार

का प्रयोग करने से पहले उनके बारे में पता करना बहुत जरूरी होता है अन्यथा आप अपने बचे हुए बाल को भी खो सकते हैं।

सभी जड़ी बूटी का उपयोग सभी प्रकार के हर्बल बाल उत्पाद बनाने की तैयारियों में किया जाता है। लेकिन hair growth products को खोजने में मुश्किल हो सकती है। आपका डॉक्टर या स्वास्थ्य चिकित्सक आपको एक ऐसी दवा खोजकर दे सकता है जिसका आपको वास्तव में जरूरत है।

उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से बात जरूर करे क्योंकि वे आपको आपके दवा के प्रयोग से आगे की सलाह step by step देते रहेंगे।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह पोस्ट (19 Herbal Remedies for Hair Growth in hindi) पसंद आया होगा। अगर कोई सवाल या सुझाव है तो हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं।